aaina

..sach dikhta hai ..[kahani,lekh.haas-parihaas ,geet/kavitaaye]

150 Posts

190 comments

brij


Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.

Sort by:

बिहार चुनाव अखाड़े के दांव !

Posted On: 23 Sep, 2015  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

Others social issues लोकल टिकेट में

0 Comment

“आप” बदहवास है !

Posted On: 2 Apr, 2015  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

Others पॉलिटिकल एक्सप्रेस लोकल टिकेट में

0 Comment

बिन “आधार” बेरन भई कुंजे !

Posted On: 23 Mar, 2015  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

Others social issues हास्य व्यंग में

1 Comment

“आप” में तू-तू-में-में

Posted On: 17 Mar, 2015  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

Others मेट्रो लाइफ लोकल टिकेट में

0 Comment

लॉटरी से लूट !

Posted On: 26 Jul, 2014  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

social issues लोकल टिकेट हास्य व्यंग में

0 Comment

श्रद्धा पर चोट !

Posted On: 24 Jun, 2014  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

social issues ज्योतिष लोकल टिकेट में

0 Comment

Page 1 of 1512345»10...Last »

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

मैं वास्तव में आप brij.jagranjunction.com पर लिख रहे हैं शानदार अंक के लिए आपको धन्यवाद कहने के लिए एक छोटा सा शब्द भेजना चाहते थे . मेरा समय लेने वाली इंटरनेट देखने अंत में अपने दोस्तों के साथ आदान प्रदान करने के लिए बहुत अच्छे विचारों के साथ सम्मानित किया गया है . वास्तव में हमें साइट आगंतुकों के कई अत्यंत उपयोगी अंक के साथ इतने सारे सुंदर व्यक्तियों के साथ एक उल्लेखनीय समुदाय में मौजूद संपन्न हो कि मैं ' घ एक्सप्रेस . मैं अपने वेबपेज का इस्तेमाल किया है करने के लिए वास्तव में भाग्यशाली महसूस करते हैं और यहां पढ़ने इतने अधिक मज़ा क्षणों के लिए तत्पर हैं . बहुत सारी चीज़ें के लिए एक बार फिर बहुत बहुत धन्यवाद.

के द्वारा:

के द्वारा: deepakbijnory deepakbijnory

ब्रिज जे नमस्कार / सरकार तेल पर कीमत बढ़ाकर जहां अपना राजस्व बढ़ा रही हें वहीं डीजल , किरोसीन पर सब्सिडी देकर वोट बेंक मजबूत कर रही हें / जनता सेकुलर व् नॉन सेकुलर में बंटी हें / जब दलित , पिछड़ा , अल्प्संखयक वोट करता हें तो सेकुलर के नाम पर करता हें / मुझे तो ये लगता हें कि सरकार तेल के दाम बढ़ा कर नॉन सेकुलर व् कोमुनल फोर्सिज को निसाना बना रही हें / तभी तो इस तेल के खेल में लालू , मुलायम ममता , करुणानिधी भी कांग्रेस के साथ हें और सेकुलर वोट पक्का करने के लिए कोहराम पिक्चर की तरह दिखावे का विरोध कर रहें हें / अब ये सेकुलर वोटर ने तय करना हें कि वो किसे अपना हमदर्द समझता हें / वरना इनको जिताने के बाद भी ये उन पर महंगाई की मार कर रहें हें

के द्वारा: satish3840 satish3840

इस तथ्य की पड़ताल किया जाना अति प्रासंगिक है क़ि बाबा साहेब अंबेडकर जी की इस कार्टून पर तात्कालिक प्रतिक्रिया क्या थी ? यदि उन्होने इस कार्टून पर विरोध दर्ज नही किया था तो वर्तमान नेताओं द्वारा दशको पूर्व बने इस कार्टून पर किए बवाल को कैसे उचित ठहराया जा सकता है . विदित ही है की संसद की कार्यवाही पर प्रतिदिन लाखों की धनराशि व्यय होती है ,किंतु इस पर कोई चर्चा करने का मतलब नही क्योंकि अधिकांश संसदीय सत्र हो हल्ले ,हंगामे की भेंट चड़ते रहे है ओर विभिन्न अवसरों पर सत्ता ओर विपछि सदस्यो की कम उपस्थिति अथवा गंभीर मुद्दों पर चर्चा मे केमरे मे ऊंघते माननीयो की शकले देखकर सहज ही अंदाज़ा लगाया जा सकता है की हमारे सांसद संसद की कार्यवाही के प्रति कितने गंभीर रहे है . श्री बिरजू जी नमस्कार ! आप भी कैसी बात कर रहे हैं ? अरे ये तो हमारे माननीय सांसदों का झमेला है वोट पाने का और समाज को तोड़कर रखने का ! बाबा साहेब ने बहुत सी बातें ऐसी कहीं हैं जो अब इन लोगों ने अप्रासंगिक बना दी हैं ! बाबा साहब के आदर्शों पर केवल कहने को और वोट पाने को चलते हैं उन्हीं सार्थक नहीं लेते ! बेहतरीन लेख

के द्वारा: yogi sarswat yogi sarswat

के द्वारा:

के द्वारा:

के द्वारा: kmmishra kmmishra

के द्वारा:

के द्वारा:

के द्वारा: aditi kailash aditi kailash

के द्वारा:

के द्वारा:

के द्वारा:

के द्वारा:

के द्वारा:




latest from jagran